राजस्थान गांधी मातृत्व सहयोग योजना 2022″Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Registration

गांधी मातृत्व सहयोग योजना 2022″इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान”इंदिरा गांधी मातृत्व योजना”Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana Registration”

मातृत्व पोषण योजना राजस्थान की महिला सशक्तिकरण के लिए सरकार की एक बहुत सराहनीय योजना है मातृत्व पोषण योजना राजस्थान में इंदिरा गांधी के नाम से चलाएं जा रही है जिसकी घोषणा राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान बजट 2022 में की गई थी ,राजस्थान मातृत्व पोषण योजना का शुभारंभ 19 नवंबर 2020 में राजस्थान के मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा किया गया, मां के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए ही मात्री दिवस पर राजस्थान सरकार ने दूसरी संतान के जन्म पर इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना की पहल शुरू की है यह योजना गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए चलाई जा रही है|

जिसे सरकार के बड़े प्रोजेक्ट के रूप में पहले राजस्थान के मुख्य चार जिलों (उदयपुर , डूंगरपुर ,बांसवाड़ा , प्रतापगढ़ ) में चलाया जा रहा है योजना दूसरी संतान के जन्म के लिए ही गर्भवती महिला को वित्त सहायता के रूप में दी जाएगी, इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना केंद्र सरकार की चलाई जाने वाली प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की ही पूरक योजना है यह योजना भी मुख्यतः गर्भवती महिलाओं की आर्थिक सहायता के लिए प्रदान की जाती है ताकि महिला का पोषण व जन्म लेने वाले शिशु का पोषण पौष्टिक रूप से किया जाए ताकि महिला व शिशु दोनों स्वस्थ और खुशहाल जीवन की शुरुआत करें|

गांधी मातृत्व सहयोग योजना 2022

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना के बारे में जानकारी यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना का उद्देश्य गर्भवती एवं स्तनपान कराने वाली महिलाओं को नकद राशि प्रदान करना है ताकि इसकी मदद से वे पोषणाहार ले सकें एवं अपनी स्वास्थ्य संबंधी जरूरतें पूरी कर सकें। आप इस योजना, इसके दिशा-निर्देशों, अधिसूचनाओं, अनुदान की मंजूरी इत्यादि के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आप प्रत्यक्ष नकद हस्तांतरण के लिए इसके वेब आधारित एप्लीकेशन का भी लाभ उठा सकते हैं।

Rajasthan Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022

योजना का नाम राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना
उद्देश्य गर्भवती महिलाएं तथा उनके बच्चे को आर्थिक सहायता प्रदान करना।
लाभार्थी गर्भवती महिलाएं
किस ने लांच की राजस्थान सरकार
आधिकारिक वेबसाइट जल्दी लॉन्च की जाएगी
आर्थिक सहायता 6 हजार रुपए पांच चरणों में
लाभार्थियों की संख्या 77000
बजट 43 करोड़

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का क्रियान्वयन राजस्थान सरकार के 3 विभागों के अंतर्गत किया जा रहा है|

1. जिसमें महिला एवं बाल विकास विभाग के आंगनबाड़ी केंद्रों द्वारा योजना को ग्रामीण क्षेत्रों व शहरी क्षेत्रों की गर्भवती महिलाओं का पंजीकरण करके उन्हें समय-समय पर स्वास्थ्य को लेकर जागरूक किया जाता है|

2. चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग इसमें आशा वर्कर द्वारा लाभार्थियों गर्भवती महिलाओं को उचित पोषण व शिशु देखभाल संबंधी परामर्श वह स्वास्थ्य संबंधी तरह-तरह की गतिविधियां उनसे सांझा की जाती है|

3. खान और भूविज्ञान विभाग इसके अधीन जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट खान प्रमाणित क्षेत्रों में महिला एवं बाल विकास हेतु नित पोषण का कार्यभार इस विभाग द्वारा देखा जाता है|

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना का उद्देश्य

  • मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 का शुभारंभ गर्भवती महिलाओं के लिए किया गया है जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के प्रावधानों की अनुपालनआ में जिस भावना के साथ राज्य नेतृत्व प्रसव के समय महिलाओं के लिए इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना शुरू की है उसे ध्यान में रखते हुए परिवार के लोग गर्भवती एवं धात्री महिला तथा बच्चे के पोषण का पूरा ख्याल रखें|
  • इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का मुख्य उद्देश्य महिला सशक्तिकरण की दिशा में उठाया गया एक अहम कदम है स्वास्थ्य एवं पोषण बच्चे देश का भविष्य है गर्भवती महिलाओं को उचित पोषण मिलेगा तो बच्चे बच्चा भी स्वस्थ पैदा होगा|
  • राज्य सरकार की महत्वपूर्ण योजना माताओं एवं बच्चों में कुपोषण कम करने के साथ-साथ बच्चों के समूह के विकास में मां के पोषण के महत्व के संबंध में जागरूकता बढ़ाने के लिए किया गया है|
  • राजस्थान मातृत्व पोषण मिशन के तहत यह लक्ष्य रखा गया है कि 5 वर्ष में लगभग 3 .75 लाख महिलाओं पर 225 करोड़ व्यय किए जाएंगे|

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लाभ

  • राजस्थान मातृत्व पोषण योजना का लाभ गर्भवती महिला को द्वितीय संतान गर्भधारण करने पर ही मिलेगामातृत्व पोषण योजना के तहत राजस्थान सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं को ₹6000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी जिसे 5 किस्तों में अनुदान के रूप में दिया जाएगा
  • पहली किस्त- दूसरी संतान पर प्रथम गर्भवती जांच व पंजीकरण होने पर मिलेगी 1000
  • दूसरी किस्त – दूसरी प्रसव पूर्व जांच पूरी होने पर (गर्व के 6 महीने के भीतर मिलेगी )1000
  • तीसरी किस्त -बच्चे के जन्म पर प्रसव पर 1000
  • चौथी किस्त – 3 महा तक के सभी नियमित टीके लगाने पर नवजात के जन्म पंजीकरण पर ₹2000
  • पांचवी किस्त – संतान के बाद परिवार नियोजन साधन लगवाने पर 1000

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप Indira Gandhi Matritva Poshan Yojana 2022 के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ समय इंतजार करना होगा। राजस्थान सरकार द्वारा अभी केवल राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 की घोषणा की गई है।

इस योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया जल्द सरकार द्वारा सक्रिय की जाएगी। जैसे ही सरकार द्वारा आवेदन करने की प्रक्रिया की जानकारी दी जाएगी|

Rajasthan Jan Suchna Portal 2022

Leave a Comment